Hindu Calendar 2022 (हिंदू 2022 कैलेंडर) पंचांग – Indian Holidays & Festivals

India is the land of diversity and numerous religions that bond with one another to live happily in peace. Owing to the number of facts, India is the country that celebrates a large number of festivals and each festival (त्योहार) has its significance. Therefore, it needs to have a good understanding of the Hindu calendar 2022 to have a keen knowledge of the day, date, paksha, and month.

How festivals are calculated in India?

यह पता चला है कि भारत के लोग हर महीने या हर दिन त्योहार मनाते हैं। और त्योहार की गणना पूरी तरह से हिंदू पंचांग पढ़ने पर आधारित है। पंचांग शब्द में दो अलग-अलग शब्द शामिल हैं जो पंच + आंग हैं। पंचांग में 5 भाग होते हैं अर्थात तिथि, दिन, नक्षत्र, करण और योग। सभी त्योहारों की गणना इन कारकों पर निर्भर करती है जिन्होंने हमें हिंदू त्योहारों की महीने-वार सूची के साथ आने में मदद की है। कैलेंडर से हिंदू उत्सव और उपवास की वास्तविक तिथि प्राप्त करने के लिए त्योहारों की गणना सूर्य और चंद्रमा की स्थिति के आधार पर की जाती है।

जनवरी 2022 हिन्दू कैलेंडर
फरवरी 2022 हिन्दू कैलेंडर
मार्च 2022 हिन्दू कैलेंडर
April 2022 Hindu Calendar
अप्रैल 2022 हिन्दू कैलेंडर
मई 2022 हिंदू कैलेंडर
जून 2022 हिंदू कैलेंडर
July-2022-Hindu-Calendar
जुलाई 2022 हिंदू कैलेंडर
August-2022-Hindu-Calendar
अगस्त 2022 हिंदू कैलेंडर
September 2022 Hindu Calendar
सितंबर हिंदू कैलेंडर 2022

What are the months of the Hindu calendar?

We are tried our level best to come up with the monthly list of 2022 with the utilization of the position of the sun and moon. The Hindu calendar 2022 pdf is entirely favored the lunar month and the festivals that are celebrated in this month. The Hindu panchang is even referred to as the shaka calendar. This is the calendar that is based upon the lunisolar system and is evaluated to fall in the category of [2078 – 2079] Vikrama Samvata (विक्रम संवत् ). It has been considered the year to start with the advent of Chaitra which is the first month of the Hindu calendar whereas the Phalguna is considered to be the end of the year as per the Hindu shaka calendar. Here is the list of months that is going to be followed in the Hindu calendar are:

  • Chaitra (चैत्र) -हिंदू वर्ष का शुभारम्भ चैत्र माह से होता है। चैत्र की प्रतिपदा तिथि से ही हिन्दू नववर्ष की शुरुआत होती है। ज्योतिष विद्या में ग्रह, ऋतु, मास, तिथि एवं पक्ष आदि की गणना भी चैत्र प्रतिपदा से ही की जाती है।अंग्रेजी माह के मार्च -अप्रैल माह में चैत्र आता है। इस माह में चैत्र नवरात्र बड़ी धूमधाम से मनाया जाता है ये माह वसंत ऋतु का होता है। अंग्रेजी माह के अनु सार भीम राव अंबेडकर संविधान निर्माता का जन्मदिवस इस माह में मनाया जाता है।
  • Vaishakha (वैशाख)इस माह में ग्रीष्म ऋतु का आगमन होता है। हिन्दू धर्म में इस माह में गणेश भगवान् और जैन धर्म में गौतम बुद्ध के जन्मदिवस के रूप में मनाया जाता है ।अंग्रेजी माह के अनुसार ये हिन्दू माह अप्रैल-मई में आता है और मातृदिवस इस माह में अंकित है।
  • Jyeshtha (ज्येष्ठ)अंग्रेजी माह के अनुसार ये हिन्दू माह मई-जून में आता है ।ये माह ज्येष्ठ नक्षत्र के नाम पर आधारित है।इस महीने में सूर्य अपने प्रचंड रूप में रहता है और गर्मी का प्रकोप सबसे अधिक होता है।सनातन धर्म में इस माह सूर्य और जल देवता का विशेष पूजा का महत्व है। इस माह में अचला एकादशी , गणेश चतुर्दशी ,सावित्री जयंती आदि कई त्यौहार मनाया जाता है।
  • Ashadha (आषाढ़)हिन्दू कैलेंडर में आषाढ़ माह का चौथा स्थान है।आषाढ़ माह में सूर्य और जल का पूजन किया जाता है ।शीतला अष्टमी , जग्गनाथ यात्रा, योगिनी एकादशी समेत कई व्रत और त्यौहार पड़ते है । ये माह जून -जुलाई में पड़ता है । इस माह में वर्षा ऋतु का आरम्भ होता है और गुरु पूजा की विशेष महत्ता है।
  • Shravana (श्रावण)हिन्दू बोलचाल भाषा में इस माह को सावन का महीना भी बोलते है ।इसी माह में स्वतंत्रता दिवस भी मनाया जाता है।सनातन धर्म अनुसार भगवान शिव की पूजा पूरे महीने की जाती है। इस महीने में वर्षा अपनी चरम सीमा पर होती है और ग्रीष्म ऋतु से राहत प्रदान करती है ।इस माह में रक्षाबंधन ,नागपंचमी जैसे पर्व आते है।
  • Bhadra (भाद्रपद) भादपद्र हिन्दू माह का पवित्र महीना है ।इस माह में कृष्ण भगवान का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया जाता है।इस माह को भादो नाम से भी जाना जाता है ।भादपद्र माह में त्योहारो की शुरुवात कजली या कजरी तीज से होती है ।ये माह सावन समाप्त होने क बाद शुरु होती है ।
  • Ashwin  (आश्विन) इस माह में पितरो की पिंड दान अर्पण किया जाता है । पितृ पक्ष के समापन क बाद शारदीय नवरात्र का शुभारम्भ इस माह में होता है ।नव दिन मां दुर्गा की पूजा अर्चना की जाती है और रामनवमी धूमधाम से पुरे भारत में मनाया जाता है ,सितम्बर -अक्टूबर माह में आश्विन महीने की शुरुवात हो जाती है ।
  • Kartika (कार्तिक) कार्तिक माह हिन्दू धर्म में विशेष महीना है । इस पूरे माह घर में दीपक प्रज्वलित किये जाते है । दिवाली ,देवदीवाली,तुलसी विवाह जैसे हिन्दू पर्व इस कार्तिक माह में आते है ।इस माह में विष्णु – लक्ष्मी जी का पूजन करने से सुख समृद्धि घर में आती है ।
  • Margashirsha (मार्गशीर्ष)हिन्दू माह का नवां महीना है । मार्गशीर्ष का नाम मार्गशीर्षा नक्षत्र पर रखा गया है ।इस माह में कोई विशेष पर्व नहीं होता है लेकिन हिन्दू विवाह के लिए शुभ मुहूर्त है ।इस माह से ठण्ड की शुरुवात हो जाती है।
  • Pausha (पौष)इस माह में हेमन्त ऋतु का प्रभाव भी रहता है.इस माह में सूर्य भगवान की पूजा की महत्वता बढ़ जाती है।ऐसा माना जाता है सूर्य भगवान की पूजा करने से मानव स्वास्थ्य बेहतर और निरोग रहता है हिन्दू पंचांग के अनुसार दसवें महीने को पौष कहते है।
  • Magha (मघा) शास्त्रों में बताए गए नियम के अनुसार, माघ मास में जगत के पालनहार भगवान विष्णु को तिल चढ़ाने और ब्राह्मणों व जरूरतमंद लोगों को दान करने से पापों से मुक्ति मिलती है। साथी ही यह उपाय करने से शुभ फलों की प्राप्ति होती है।माघ माह के दौरान कृष्ण पक्ष में सकट चौथ (गणेश चतुर्थी व्रत) ,षटतिला एकादशी, मौनी अमावस्या आती है तो शुक्ल पक्ष में वरदतिलकुन्द-विनायक चतुर्थी, वसंत पंचमी, शीतला षष्ठी, रथ-अचला सप्तमी, जया एकादशी व्रत और माघी पूर्णिमा जैसे पर्व आते है।
  • Phalguna (फाल्गुन)

हिंदू पंचाग का आखिरी महीना होता है फाल्गुन, इस माह में दो महत्वपूर्ण पर्व आते हैं जो हिंदू धर्म में अपना खास महत्व रखते हैं। महाशिवरात्रि, इस दिन भगवान शिव की आराधना की जाती है और होली, इस दिन होलिका दहन किया जाता है और अगली सुबह रंगों से होली खेली जाती है। इस माह में ऋतु में बड़ा परिवर्तन हो रहा होता, बसंत ऋतु के समय नए फूल आ रहे होते हैं जो प्रकृति को खूबसूरत बनाते हैं।जानकी जयंती,विजया एकादशी,महाशिवरात्रि जैसे पर्व आते है।

How is hindu festival celebrated?

Hindu festivals and fasting can vary based upon the location of two different cities and noticeable changes in the different time zone. Therefore, it needs to set a location before focusing on the festival list. The Calendar 2022 Hindu Panchang is even best known as Hindu vart and Hindu tyohar calendar(हिन्दू व्रत एंड हिन्दू त्यौहार कैलेंडर). Fasting is the common term that is used to denote vrat or upavas and festival denotes typhar or Parva in the local language. Mostly the Hindu Calendars significantly display the days for fasting along with the festival. Most of the festivals are celebrated by the women and men by keeping long hours of fasting. The festivals are related to worshiping of the god and goddess with a lot of severity. Every Hindu festival has some or other significance and is celebrated with great enthusiasm and fervor.

Do you find it feasible for you to discover the refined form of all Hindu festivals in one? We present to you the complete guide of the Hindu festival and fasting. This calendar webcasts a clear image of date, muharat, puja vidhi, and all the legends involved in the celebration of the festivals.